स्टूडेंट्स की Personality Development करने के 6 तरीके

Success In Hindi (SIH) पर पहली बार students के लिए कुछ स्पेशल लेकर आये है जो विद्यार्थी अक्षर इन्टरनेट पर आकर सर्च करते है की वो कैसे अपने आपको develop करे आज Personality Development Tips for Students व्यक्तित्व विकास टिप्स पर बात करेंगे.

वैसे तो जब बचा पैदा होता है तो उसके 2 से 3 साल पुरे होने के बाद उसके घर वाले घर पर ही अपने बच्चे को (चाहे वो लड़का हो या फिर लड़की) धीरे-धीरे अच्छी-अच्छी बाते सिखाना स्टार्ट कर देते है… एक normal सी बात है बच्चा सबसे पहले माँ कहना ही सीखता है फिर सारी चीजे उसके बाद.

Students personality development tips

आजकल एक बच्चे को student बनने से पहले उसके parents बच्चे को बहुत सारी ऐसी बाते पहले से ही सीखा देते है जो उसे बहुत हेल्प करती है जब वो first टाइम स्कूल में admission के लिए जाता है…क्या सिखाते है आज के टाइम एक माता-पिता अपने छोटे से बच्चे को… 1, 2, 3……8, 9, 10 और a, b, c, d……..x, y, z.

इसके साथ-साथ relation के बारे में बताना स्टार्ट करते है जैसे: ये भाई है, ये बहन है, ये चाचा है, ये चाची है, ये दादी है, ये दादा है, ये ताऊ है, ये ताई है, ये बुआ है, ये बड़ा है ये छोटा है ये पहचान कराते है.

अब क्या होता है बच्चा स्कूल जाने लगता है school में पढता है घर आकर home work करता है कुछ टाइम दोस्तों के साथ खेलता है फिर शाम को सोने से पहले अपने मम्मी-पापा के साथ पुरे दिन की हिस्ट्री (लेखा जोखा) पर बात होती है क्या गलत हुआ और क्या सही ये सब.

इस तरह से बच्चा बड़ा होने लगता है और फिर उसकी recruitment बढ़ने लगती है अब उसको कुछ खास टिप्स की जरुरत होती है जिससे उसकी personality development हो सके, वो तरीके हम लेकर आये है की students कैसे अपने आपको improve करे.

कैसे अपने एनर्जी सही दिशा में लगाये कैसे एग्जाम में अच्छे मार्क्स लाये ये सारी बात आज इस आर्टिकल में करंगे, सभी स्टूडेंट्स से एक अपील है इन points को ध्यान से पढ़े और अपनी daily लाइफ में उतारने की कोशिश करे आपको लाभ जरूर होगा.

Personality development tips for students in hindi

1. एक अच्छा श्रोता बने (सुनने की आदत बनाये) Be A Patient Listener

एक बच्चा जब छोटा होता है यानि जब वो 10 से 12 साल का होता है तब तो वह अपने teachers और अपने family की बात बड़े अच्छे से सुनता है हर बात को मानता है किन्तु जब 16 से 20 वर्ष की उम्र में होता है तो उसको अपने ज्ञान के आगे सब लोग मुर्ख लगने लगते है (ऐसा सबके साथ नहीं होता है किन्तु बहुत लोगो के साथ होता है).

प्यारे विद्यार्थीयो, एक बात जरूर ध्यान रखे कभी भी आपसे जब कोई बात करता है, हो सकता है आपका अपनी फॅमिली का कोई हो, आपके टीचर्स में से हो, आपका दोस्त हो कोई आपसे उम्र में बड़ा है या फिर छोटा भी हो सकता है पहले उसकी बात अच्छे से सुन ले समझ ले तभी उसका क्या answer देना है अच्छे से जान ले की जो आप बोलने जा रहे है वो सही है या गलत.

क्योंकि जब एक बार आपने कुछ बोल दिया तो वो word वापस नहीं आता है और एक बात अगर आपको highly successful person बनना है तो एक अच्छा स्रोता बना होगा.

2. बात करने का एक अच्छा कौशल होना Excellent Communication Skills

Dear Students, ये दुनिया उसे ही सलाम करती है जो अपनी बात अच्छे से सबके सामने रख पाता है अपनी समस्या को दुसरो के आगे बता पाता है… एक example के जरिये आपको बताते है मान लीजिये 2 कैंडिडेट है जो job interview के लिए जाते है.

पहला candidate थोड़ा सा बात करने में झिझकता है लोगो से बात करने में शर्माता है – जॉब इंटरव्यू लेने वाला उसे सवाल करता है तो वो सही से उसका जबाब नहीं दे पाता है या आधा-अधूरा जबाब देता है इसका मतलब ये नहीं की उसे वो जबाब नहीं आता है जी नहीं ऐसा नहीं है क्योंकि उसके communication skills अच्छे नहीं है English भी बहुत अच्छी नहीं है इस कारण उसे इंटरव्यू में reject कर दिया जाता है.

दूसरा candidate हरफ़नमौला है किसी से बात करने में नहीं झिझकता है सब से अच्छी बात करता है जब वह interview देने जाता है उसका self confidence सातवे आसमान पर होता है क्योंकि उसे अपने आप पर भरोशा है सामने कोई भी हो वो उसको अच्छे से बात कर लेगा interview लेने वाले को solid जबाब देता है उसका selection हो जाता है उसकी इंग्लिश भी अच्छी है आप भी अंग्रेजी बोलना सीखे.

3. स्वयं अपना अध्ययन करे (स्वयं पढाई करे) Study Your Own Self

चाहे आप किसी भी स्कूल या कॉलेज में पढ़ते है जब तक आप self study नहीं करेंगे आपको exam में अच्छे marks नहीं मिलेगें, बढ़िया नंबर लाने के लिए आपको सेल्फ स्टडी करनी होगी, क्या करना होगा self study के लिए अपनी classes का ध्यान रखे कब कौनसी क्लास है कौनसी books की जरुरत है क्या notes रेडी करने है.

Revision कब करना है उन सबके लिए एक समय fix रखे ताकि आपको अपने mind में रखने की आवश्यकता न पड़े.

4. खुद अपनी राय से काम करे Bringing In Your Own Opinion

जब आप ये सवाल किसी से भी पूछते है… “में ये काम कैसे करू” जिससे भी आप पूछेंगे वो आपको कुछ न कुछ बता ही देगा क्योंकि इस दुनिया में फ्री की advice देने के लिए बहुत लोग बैठे है, इसीलिए हम तो आपको एक ही सलाह देंगे जो करना है अपने आप करना है जो आपको अच्छा लगे वो ही करे उसी तरीके से करे जो आपको पसंद है.

5. सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए उचित योजना बनाये Proper Planning For Best Performance

मन लीजिये एक क्लास में 100 बच्चे है उनमे से हर साल 90 प्रतिशत ही बच्चे पास होते है और जो पास होते है उनमे भी कुछ first आते है कुछ second आते है और बचे हुए third आते है.

अब उनके करियर पर बात करते है कोई डॉक्टर बनता है कोई इंजीनियर बनता है कोई police में जाता है कोई टीचर बनत बनता है…आपको पता है ये सब क्यों होता है?

क्योंकि, इस प्रकृति का नियम है जो अपनी योजना के तहत काम करता है जिस काम के लिए प्लान करता है वो वैसा ही बन जाता है… इसलिए एक बेहतर प्लान बनाये और उसे अपनी रोजाना की to do list में जरूर नोट डाउन कर के रखे.

6. शारीरिक भाषा व अपना व्यव्हार सही रखे Body Language Your Attitude

एक इंसान की पहचान उसके body language और उसके व्यव्हार से होती है की वो आदमी दिखता कैसा है बात कैसे करता है अपने सामने वाले को कितना सम्मान देता है ये सब आपका एक दम सही होना चाहिए.

अपने दोस्तों में सबसे अच्छे से बात करे क्योंकि कभी भी किसी से अपनी बात ख़राब नहीं करनी चाहिए, अपनी फॅमिली से relation अच्छे बना कर रखे… फिर आपको अपना जीवन बहुत सरल लगने लगेगा…और दूसरे लोग आपकी personality के दीवाने हो जायेंगे.

कैसे लगे , सभी students हमे कमेंट करके बताये कितना सुधार किया आपने इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद, हमे आपकी comment का इन्तेजार रहेगा.

Vipin Lambha

Hello everyone, I am an Entrepreneur with Startup & Digital Media expert by profession and passionate for Blogging.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.