Positive Thinking Tips in Hindi सकारात्मक सोच के तरीके

इस दुनिया में कोई भी बड़े से बड़ा काम करने के लिए एक अंदरूनी शक्ति की आवश्यकता होती है जिसे हम पॉजिटिव थिंकिंग, सकारात्मक सोच कहते है आज हम इसी टॉपिक पर बात करेंगे Positive Thinking Tips in Hindi सकारात्मक सोच बनाये.

क्यों जरुरी है positive thinking

सकारात्मक सोच का क्या असर होता है हमारी लाइफ में कैसे आप positive thinking की power से अपने कठिन से कठिन लक्ष्य को हासिल कर सकते है ये सब बात करेंगे इस आर्टिकल में अंत तक पढ़े.

दोस्तों, सकारात्मक सोच उस हमसफ़र का नाम है, (हम इसे हमसफ़र क्यों बोल रहे है क्योंकि ये हमेशा आपके दिमाग में रहती है और आपके साथ रहती है) जो किसी भी सफलता के लिए रामवाण सावित होती है कोई भी टारगेट आपको अचीव करना हो life में आपको positive thinking के साथ ही काम करना होगा.

Positive thinking कैसे बनाये रखे

जब आप अपने काम में लगे हो क्योंकि मानव का स्वाभाव होता है जब success मिलती है जब वह खुश रहता है तब तो आत्मविश्वास से भरा होता है तो सोच सकारात्मक ही रहती है किन्तु जब असफलता हाथ आती है तब आदमी के दिमाग में negativity आती ही आती है चाहे कोई भी हो, उस वक़्त अपने thinking को positive कैसे बनाये.

आज तक आपने बहुत सारे लोगो से सुना होगा, बहुत सारी books भी पढ़ी होंगी positive thinking के लिए क्या करना होता है क्या तरीके होते है सकारात्मक सोच के लिए, किन्तु जो तरीके हम आपके साथ शेयर करने जा रहे है वो बिल्कुल practically व्यवहारिक है आपको समझ में बहुत आसानी से आयेंगे.

Positive thinking tips सकारात्मक सोच के तरीके

1) Happiness खुशियाँ मानते रहे

Happiness उस दवाई का नाम है जो इंसान को positive बनाने में बहुत हेल्प करती है जिसकी वजह से negativity आना थोड़ा सा मुश्किल होता है.

आपको एक example के जरिये से बताते है, जब आदमी के दिल और दिमाग में ख़ुशी का अहसास रहता है उस time उसका confidence level हाई रहता है जहन में अच्छे ही विचार आते है नकारात्मक सोच का तो मतलब ही नहीं बनता चाहे कैसा भी माहौल हो.

किन्तु जिस समय, आदमी थोड़ा सा भी दुखी होता है परेशान रहता है किसी बात की कोई चिंता रहती है तब इंसान के दिल और दिमाग में नेगेटिविटी का प्रसार होता है जिसके कारण वो जीवन में आगे ही नहीं बढ़ पाता है इसीलिए खुश रहिये मस्त रहिये और positive thinking के साथ लाइफ का आनंद लीजिये.

2) आत्मसम्मान रखे Self Esteem

सकारात्मक सोच के लिए आपका आत्मसम्मान self confidence का होना बहुत जरुरी है अगर आपका खुद का confidence low रहेगा तो आपके अंदर positive thinking का निवास हो ही नहीं सकता है.

कैसे बनाये रखे आत्मविश्वास, कॉन्फिडेंस एक मन की धारणा है जैसी बात हम अपने दिल और दिमाग में बैठा लेते है वैसे ही विचार हमारे अंदर से उत्पन्न होते है, आत्मविश्वास के लिए आप एक काम कर सकते है अपने जैसे लोगो का चुनाव करे उनके साथ मिले बाते करे अगर आपको कोई समस्या है उनसे उस का हल निकालने के लिए सुझाव ले.

एक छोटा सा उदाहरण – आप कोई काम में लगे है और आपके अंदर एनर्जी लेवल कम है तो आप उस काम को अपना 100% नहीं दे सकते है और आप उसमे fail हो जाओगे और उसके बाद आपके अंदर से positive thinking गायब हो जायेगी.

3) प्रेरणा लेते रहे Motivation

जैसा की हमने आपको बताया आत्मविश्वास बहुत ही अवश्य है वैसे ही आपके अंदर motivation होना बहुत जरुरी है positive thinking के लिए.

Self confidence और Motivation में बहुत अधिक अंतर तो नहीं है किन्तु दोनों ही बहुत काम की चीज है सकारात्मक सोच के लिए, क्या अंतर है आपको बताते है सेल्फ कॉन्फिडेंस इंसान को अंदर से टूटने नहीं देता है और मोटिवेशन इंसान को आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है.

जिस आदमी के पास के दोनों है नकारात्मकता उस मनुष्य के आस-पास भी नहीं आयेगी, motivation के लिए आप हमारे top motivational thoughts पढ़े ये दुनिया के महान लोगो ने कहे है अपने पर्सनल अनुभव के बाद.

4) संबंधों में सुधार करते रहे Improved relations

Friends, अक्षर हम अपने रिश्तो के बारे में गलत-सलत बात करते रहते है कभी किसी दोस्त के बारे में, family मेंबर के बारे में, चाचा मामा फूफा के बारे में या किसी अन्य के बारे जिससे आपका संबंध बना हुआ है किसी भी तरीके से, अगर हम ऐसा करते है तो भी हम negativity को दावत दे रहे है कैसे?

इस संसार में कोई भी आदमी perfect नहीं है हर किसी के अंदर कोई न कोई गलत आदत होती है कुछ ना कुछ अवगुण होते है जो अच्छी आदते हो उसे आप उन से ले लो और जो आपको गलत लगती है उसे ignore करे आपका काम आसान हो जायेगा.

क्योंकि, किसी के अंदर क्या आदत है ये आपकी प्रॉब्लम नहीं है ये उस इंसान की निजी दिक्कत है आप उससे क्यों परेशान होते है आप उसके प्रति एक अच्छी भावना रखे इससे आपको ही फायदा होगा, सबसे अच्छा attitude रखे किसी से अपने personal contact ना बिगाड़े, अगर आप ऐसा करते है तो आपकी thinking positive रहेगी.

5) Better health बेहतर स्वास्थ्य का ध्यान रखे

अच्छी सेहत, ऊपर आपको जो 4 tips बताये है positive thinking के लिए वो सारे किसी काम के नहीं है अगर आप tips नंबर 5 पर ध्यान नहीं देंगे.

आप सारे काम करते है और अपनी health का ध्यान नहीं दे रहे है और सिर्फ काम ही काम किये जा रहे हो तो हो सकता है आप अपना best नहीं दे पा रहे हो उसका reason है आपका स्वास्थ्य, अपनी सेहत बढ़िया रखे सोच को सकारात्मक बनाने के लिए कहा भी गया है health is wealth.

प्यारे पाठको Reader, अगर आपको बाकई positive thinking के लिए काम करना है तो ये सारे के सारे पॉजिटिव थिंकिंग टिप्स आपके बहुत काम आयेंगे, उसकी वजह है ये टिप्स खुद एक वास्तविकता को दर्शाते है.

कैसे लगे आपको Positive Thinking Tips in Hindi सकारात्मक सोच बनाये, हमे कमेंट करके अवश्य बताये, ताकि हमे पता चल सके जो लेख हम लिखते है आपको पसंद आ रहे है या नहीं आपकी लाइफ को आसान बना रहे है या नहीं जिससे की हम अपने आप में इम्प्रूवमेंट कर सके.

अगर बाकई पसंद आ रहे है तो अपने दोस्तों के साथ व्हाट्सएप्प, फेसबुक, ट्विटर पर शेयर करे, शेयर कैसे करे जब आप पोस्ट के last में होते है तब आपको sharing के लिए button दिख जायेंगे. धन्यवाद

Vipin Lambha

Hello everyone, I am an Entrepreneur with Startup & Digital Media expert by profession and passionate for Blogging.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.