सक्सेस होना है तो अपना Comfort Zone कैसे छोड़े

बहुत सारे लोग होते है जो सपने तो बहुत बड़े-बड़े देखते है, बहुत बड़ी-बड़ी ढींगे मारते है हम ये करेंगे हम वो करेंगे दरअसल में इस तरह के लोग बहुत ज्यादा कुछ कर नहीं पाते है क्योंकि वो अपने कम्फर्ट जोन को छोड़ना नहीं चाहते है आज का हमारा टॉपिक है सक्सेस होना है तो अपना Comfort Zone कैसे छोड़े.

Leave your comfort zone

इस आर्टिकल में हम आपको बतायेंगे कैसे आप अपना कम्फर्ट जोन यानि “अपने आपको सुरक्षित रखने का क्षेत्र” छोड़ सकते है जिसकी बजह से आप अपना काम समय पर नहीं कर पा रहे है या हो सकता है एक बड़ी सफलता के लिए आपने अपनी प्लानिंग कर रखी है परन्तु स्टार्ट करते हुये आपको डर लग रहा है इत्यादि.

फ्रेंड्स, एक successful businessman और एक आम businessman में सिर्फ एक बड़ा अंतर होता है… पहला जो अत्यधिक सफल है वो कभी भी अपने आप को safe zone में नहीं रखता है अपनी success के लिए नये-नये तरीको की खोज करता रहता है रिस्क लेने से कभी नहीं डरता है… “Facebook फाउंडर मार्क जकरबर्ग ने भी कहा है जीवन में कोई risk ना लेना ही सबसे बड़ा risk होता है”, तो risk लीजिये किन्तु calculated रिस्क लीजिये.

वही दूसरा आम businessman, हमेशा अपने आपको एक सुरक्षित क्षेत्र में रखता है कोई भी स्टेप लेने से डरता है कही मेरा lose ना हो जाये, कही मेरा नुकसान ना हो जाये… ये सारी बातें उसके दिमाग में रहती है इसलिए वो एक साधारण व्यापारी ही बन पाता है अब फैसला आपका है आपको कैसा बनना है… खास या आम…?

How to get out of my comfort zone कैसे बहार आये अपने कम्फर्ट जोन से

1) अपने आप को नये माहौल में रखो Put yourself in a new environment

Comfort zone से बहार आने का सबसे अच्छा तरीका होता है आप अपने को एक अलग माहौल में रखे, जैसे atmosphere में अब तक आप रह रहे है उसे तुरंत चेंज कर ले… जैसा आपको बनना है कुछ उस तरह का माहौल पसंद करे… कुछ उस तरह के लोगो से मिले जो आप करना चाहते है वो लोग कर चुके हो या कर रहे हो ये बेहतर रहेगा.

2) पहला कदम लो Take the first step

किसी भी सफलता के लिए पहला स्टेप बहुत जरुरी होता है, किन्तु पहला कदम उठाना इतना आसान भी नहीं होता है बहुत सोच समझकर कदम आगे बढ़ाना होता है…किन्तु आपको ये step लेना होगा अगर आपको अपनी एक अलग पहचान बनानी है तो…अपने आपको अपने comfort जोन से बहार लाना होगा और कड़ी मेहनत करनी होगी सफल होने के लिये.

3) साफ़-साफ़ दिखने वाला फैसला करें Make a snap decision

कम्फर्ट जोन से बहार आने का ये मतलब भी नहीं होता है कि आप बिना सोचे समझे कोई भी स्टेप ले ले और बाद में पछताना पढ़े ऐसा कतई ना करे… जो आपको achieve करना है उसकी अच्छे से analysis कर ले, कैसे करना है कब करना है… किन-किन resources कि आवश्यकता पड़ेगी क्या-क्या मेरे पास है और क्या मुझे बहार से किसी से help कि जरूरत होगी अगर हाँ तो कैसे और कब और किसकी जरुरत होगी ये सब प्लान आपके to do list में साफ़-साफ़ लिखा होना चाहिए तभी आप अपना comfort zone छोड़े.

4) अलग रास्ता चुने मंजिल तक जाने का Take a different route home

मान के चले दो आदमी है उनकी मंजिल एक ही है किन्तु उस मंजिल तक पहुँचने के बहुत सारे रास्ते होते है… एक बहुत आसान तरीका होता है मंजिल तक पहुँचने का किन्तु काफी लंबा होता है यानि सक्सेस देर से मिलती है क्योंकि उस रास्ते पर आप comfort zone से बहार नहीं आते है.

किन्तु एक थोड़ा रिस्की होता है जो comfort जोन से बहार आकर काम करके निकलता है but मंजिल तक पहुँचने का वो नया रास्ता होता और कम समय लगता है जो सिर्फ आपने खोज कर निकाला है बाद में इस रास्ते को और लोग भी अपनाते है किंतु उसका credit सिर्फ आपको जाता है क्योंकि आपने वो तरीका निकाला है.

5) सुरक्षित विकल्प का चुनाव ना करे Don’t pick the safe choice

जब कोई भी option आपको चुनना हो तो easy और सरल विकल्प ना चुने क्योंकि सरल option के साथ जाने से सरल ही सफलता मिलती है… कहने का मतलब है “जितना गुड़ डालेंगे उतना ही मीठा होगा” ये कहावत तो हम सबने अच्छे से सुनी है… इसलिए जो ऑप्शन थोड़ा मुश्किल नजर आता है जिसमे थोड़ा डर लगता है उसी ऑप्शन के साथ जाना चाहिए… क्योंकि “डर के आगे जीत है”.

6) अक्षर किसी भी काम को “हाँ” कहना सीखे

जो लोग अपने सुरक्षित एरिया से बहार आकर काम करते है या करना चाहते है तो उन्हें एक काम तो भली-भाँति पता होना चाहिए… कोई भी काम हो आप उसे पहली बार में मना मत करे अक्षर हाँ ही कहे क्योंकि कोई भी काम आप कर सकते है अगर आप dedicated है एक calculated रिस्क लेना जानते है तो कभी भी किसी काम को ना मत करो… कुछ ना कुछ सिखने को जरूर मिलेगा जो future में आपके काम ही आयेगा self confidence रहे.

7) याद रहे आने वाला कल एक नया दिन होगा

रोजाना हम काम करते है, कभी खुश होते है कभी-कभी उदास भी होते है…कभी आपका दिन अच्छा जायेगा और कभी थोड़ा बहुत ख़राब भी हो सकता है किंतु याद रहे एक नया दिन अपने साथ नई शुरुआत लाता है अगर आज आपका दिन थोड़ा बढ़िया नहीं गया कोई बात नहीं ये भी जरुरी है क्योंकि ये आपको आपके comfort zone से बहार आने में भी मदद करता है.

जो tips हमने आपको बताये है कि कैसे आप अपने comfort zone से बहार आये, हमे पूरी आशा आपको पसंद आयेंगे और आपकी काफी हद तक हेल्प भी करेंगे.

हमे कमेंट करके भी बताये ये पोस्ट कैसी लगी सक्सेस होना है तो अपना Comfort Zone कैसे छोड़े.

Vipin Lambha

Hello everyone, I am an Entrepreneur with Startup & Digital Media expert by profession and passionate for Blogging.

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.