Body Language Tips in Hindi शारीरिक भाषा के रूप अलग-अलग होते हैं

इस दुनिया में पर्सनल डेवलपमेंट कौन नहीं करना चाहता, अगर ये सवाल आपसे करे तो आप भी Yes ही बोलेंगे तो चलिए अपने आपको improve करने के सबसे अच्छा तरीका है अपनी body language को सही करे क्योंकि शारीरिक भाषा बिना बताये आपके बारे में सब कुछ बता देती है.

हैलो दस्तों, कैसे हैं आप? हमें उम्मीद है कि आप सब लोग अच्छे होंगे.

दोस्तों Success In Hindi आपके लिए नये विषय लेकर आता है जिसका संबंध सीधा आपसे होता है, रोज की तरह सक्सेस इन हिंदी एक बार फिर से लेकर आया है एक ऐसा विषय, जिसे पढ़कर आपके अंदर कुछ करने का जुनून मिलेगा या फिर आप इससे कुछ नया सीख पाएंगे.

हम आपको बता दें कि हमारा आज का विषय है कि कैसे शारीरिक भाषा आपनी मानसिकता को दर्शाती है कैसे आप बिना बोले ही अपनी शारीरिक भाषा से ही अपना संदेश दूसरों तक पहुंचा सकते हैं.

तो आइए जानते हैं कि Body Language Tips शारीरिक भाषा के अलग-अलग रूपों के बारें में-

अगर आप किसी से बातें कर रहे हैं और वह आपकी बातें सुनने की बजाए, मोबाइल, चाबी, या फिर कुछ और कर रहा है तो समझ लीजिए कि उसे आपकी बातें पसंद नहीं आ रहीं हैं यदि कोई दूसरा आपसे कोई महत्वपूर्ण बात कह रहा हो, तो उसके साथ ऐसा न करे, ऐसा करना दूसरे व्यक्ति के अपमान करने जैसा है.

इंटरव्यू के दौरान, ऑफिस में या अपने आपका ध्यान भी व्यक्ति की मानसिकता को बता देता है यदि कोई नजरें इधर-उधर करते हुए कुछ और देखने की कोशिश करता है, तो इसका सीधा सा मतलब है की आपकी बातो में उसकी रुचि बहुत कम ही है.

जरूरी है कि आपकी नजरें उसके चेहरे पर हों, कम से कम चेहरे की ओर देखने से भी positive सकारात्मक संकेत मिलता है अगर अच्छे सम्बन्ध बनाने है तो इस बात का ख्याल रखें.

अपने दोनों हाथो को कोई किस प्रकार रखता है, इससे भी उसकी मानसिकता का पता चलता है दोनों हाथ बांध कर छाती के पास रखना बेहतर आत्मविश्वास का सूचक है, जबकि कमर पर दोनों हाथ रखना थकावट को बतलाता है इंटरव्यू के दौरान दोनों हाथों को बांधकर इस प्रकार रखना चाहिए जिससे आप फॉर्मल दिखें.

सिर व चेहरे की हरकत से भी पता चलता है की सामने वाले व्यक्ति की आपमें कितनी दिलचस्पी है और वह आपकी बातों पर कितना ध्यान दे रहा है.

यदि बातचीत के दौरान सामने वाला आपकी ओर देखने की बजाए बार-बार इधर-उधर देखे, तो यह समझ लें की वह आपकी बात अनसुनी कर रहा है इसलिए इंटरव्यू के दौरान या किसी अधिकारी से बातचीत करते वक्त अपना चेहरा सामने ही रखें.

बातचीत के दौरान कोई आपके कितने नजदीक बैठता है, इससे आप दोनों के सम्बन्धो का पता चलता है नजदीकी जितनी अधिक होगी, संबंध उतने ही मजबूत होंगे इसलिए जब आप किसी अपने के पास बैठें, तो समुचित एक सही दूरी का ध्यान रखें.

इंटरव्यू, मीटिंग या किसी सम्मेलन में अगर कोई व्यक्ति बार-बार उबासी ले रहा है, तो स्पष्ट है की उसे वह माहौल बोर कर रहा है.

यदि आप ऐसा करेंगे, तो बॉस पर इसका negative नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा जिसका असर भविष्य में आपके काम में होने की पूरी संभावना रहती है.

पैरों की स्थिति से भी मनोस्थिति को समझा जा सकता है एक पैर के ऊपर दुसरे पैर को रखना जहां आपके आत्मविश्वास का परिचय देता है.

वहीं लगातार पैर हिलाते रहना बताता है की आप कुछ अच्छा महसूस कर रहे हैं, या आपके भीतर कुछ ऐसा चल रहा है जो आपको झूमने के लिए प्रेरित कर रहा है लेकिन इंटरव्यू के दौरान पैर हिलाने जैसा काम बिल्कुल भी न करें.

तो दोस्तों अब आप जान ही गए होंगे की आपकी शारीरिक भाषा कितनी असरदार साबित हो सकती है.

फिर चाहे वो job interview हो या फिर किसी अन्य जगह पर body language शारीरिक भाषा बेहद ही उपयोगी साबित होती है.

इसलिए आप सही समय पर सही जगह सही शारीरिक भाषा से लोगों का दिल जीत सकते हैं तो दोस्तों आपको हमारा आज का विषय कैसा लगा? कमेंट के जरिये जरूर बताये.
 
आज के लिए बस इतना ही सक्सेस इन हिंदी एक बार आपके सामने हाजिर होगा एक नये विषय के साथ जो सीधा आपसे ताल्लुक रखता है तब तक के लिए हमें इजाजत दीजिए और सक्सेस इन हिंदी के अन्य आर्टिकल का लुप्त उठाये. धन्यवाद

Note: अगर आपने अभी तक Success In Hindi का सब्स्क्रिब्शन नहीं लिया है तो अभी सब्सक्राइब करे बिल्कुल फ्री में… ताकि आपसे कोई भी पोस्ट छुटे ना और आप अपने आपको और बेहतर बना सके.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.