किताबों का योगदान Human Development के लिए जरुरी होता है

इस दुनिया में हर इंसान को development की जरुरत है, और वह इसके लिए हर संभव प्रयास भी करता है किन्तु क्या आपको पता इस काम के लिए किताबें सबसे अच्छी दोस्त, गुरु, होती है जो आपको सीखना है वो आप books के माध्यम से सिख सकते हो, आइये बात करते है Human Development के लिए किताबों का योगदान.

नमस्कार दोस्तों, आपका बहुत बहुत स्वागत है Success In Hindi के मंच पर.
 
बदलते वक्त के साथ आज का युवा भी तेज़ गती से बदल रहा हे, नई टेक्नोलॉजी को अपनाने में सबसे आगे आज का युवा वर्ग ही हे, और उसमे कोई बुराई भी नहीं हे.

हम मनुष्य वक्त के साथ बदलने में सबसे माहिर हे, तभी तो हमें सभी प्रजातियो में सबसे ऊँचा दर्जा प्राप्त हे. पर बढ़ते वक़्त के साथ हम कई चीजों को नज़रंदाज़ भी कर रहे हे, और जिनमे से सबसे प्रमुख हे किताबो को  पढना, इन्हे तो जेसे आज की युवा पीढ़ी भूल ही गयी हे.

मनुष्य के विकास में किताबो की बड़ी ही भमिका रही हे, जिसे कोई नकार नहीं सकता.

गीता, कुरान, बाइबल सभी मूल रूप से किताबे ही हे जिन्होंने विश्वभर के लोगो को प्रभावित किया हे और आज भी जीवन जीने की राह दिखा रही हे.

विश्व के सभी महान मनुष्यों ने किताबो से प्रेरणा लेकर ही खुदको बदला हे और फिर समाज में बदलाव लाया है.

आप जब भगतसिंह के बारे में या फिर महात्मा गाँधी के बारे में पढ़ेगे, या फिर किसी भी सफ़ल व्यक्ति के बारे में कही भी किसी भी किताब या ऑनलाइन पढ़ेगे तो जानेगे की सभी के जीवन में किताबो का बड़ा ही महत्वपूर्ण योगदान रहा हे.

आज अगर हम देखे तो पाएगे की इतनी किताबे हे किसी भी library पुस्तकालय में की एक व्यक्ति जीवन भर सिर्फ पढता ही रहे तो भी ये ख़त्म नहीं की जा सकती.

इसलिए हमे कुछ भी नहीं बल्कि छांटकर कुछ पढना हे, क्योंकि बाज़ार में ऐसी भी किताबे हे जो आपको गलत राह पर भी ले जा सकती हे.

इसलिए हंमेशा किसी भी किताब को शुरू करने से पहले उसके बारे में जानकारी जरूर हासिल करे और उसके बाद ही उसे पढना शुरू करे.

करियर की प्लानिंग कैसे करे Career Planning Tips in Hindi

अगर आपको आदत हे रोज पढने की तो ये बहोत ही सुखद बात हे, इससे आप को बहोत ही मदद मिलेगी किसी भी किताब को जल्दी खतम करने में, पर अगर आप को यह आदत नहीं हे तो आपके लिये शुरुआत में थोड़ी परेशानी हो सकती है, पर वक्त रहते आपकी यह आदत विकसित हो जाएगी और आपको यह जीवनभर काम आयेगी.

हर रोज शुबह या शाम में आधा या एक घंटा किताब पढ़ना जीवन में आपको फायदा दिला सकता हे और आपके दिमाग को भी नया और उर्जावान रखने में मददगार हो सकता हे.

अब ये तो आप पर निर्भर करता हे की आपको क्या पढ़ना पसंद आता हे, आपको उपन्यास पढ़ना आनंद देता हे की किसी महान व्यक्ति की जीवनी, या फिर आपको कविताओ, मधुर गानों या कहानिया पढने में ज्यादा आनंद आता हे.

ये बात तो आप इन्हे पढने की शुरुआत करने पर ही जान सकते है, और किताबे प्रमुखरूप से आप के शब्दकोष को बढ़ने में बहुत मदद करेगी.

आप जितना पढ़ेगे उतना आपके dictionary शब्दकोश में इजाफा होगा, आप जिस विषय पर पढ़ रहे है उस विषय में आपका ज्ञान भी बढेगा और जीवन में कई नाजुक मौको पर यह आपको मददरूप हो सकता हे.

आज के इस बदलते टेक्नोलॉजी के ज़माने में तो सभी लोग किताबे मोबाइल फ़ोन या फिर लैपटॉप पर भी पढ़ते हे, और किन्डल “किंडल ई – रीडर Amazon द्वारा अभिकल्पित है और उसी के द्वारा बेचा जाता है” के आने के बाद तो यह और भी आसान हो गया हे.

तो देर किस बात की है कभी आपने सोचा हो कोई किताब आपको पढनी हे उसी से शुरुआत कीजिये और आगे भविष्य इसी तरह पढ़ते रहिये और हां एक और बात की कुछ भी हो जाये इसे बंद मत करिये पहले कुछ दिन आपको दिक्कतों का सामना करना पद सकता है किन्तु बाद में ये आपकी एक आदत हो जाएगी.

ये पोस्ट आपको कैसी लगी अपना मत जरुर दे कमेंन्ट के जरिये. धन्यवाद

Vipin Lambha

Hello everyone, I am an Entrepreneur with Startup & Digital Media expert by profession and passionate for Blogging.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.