आलस दूर करने के आसान उपाय Easy Ways to Overcome Laziness

नमस्कार दोस्तों, सक्सेस इन हिंदी एक बार फिर से हाजिर हैं एक ऐसे विषय के साथ जो आपसे ताल्लुक रखता है एक ऐसा विषय लेकर जो आपके जीवन में सफलता की कुंजी साबित होगा आज हम बात करेंगे की कैसे आप अपने आलस से पीछा छुड़ा सकते है हम जो तरीके आपके साथ शेयर करने जा रह है उनसे आप बड़ी आसानी से ये काम कर सकते है.

सफल होना कौन नहीं चाहता है सब चाहते है सफलता के लिए लोग एड़ीचोटी का जोर लगा देते हैं लेकिन कई बार कुछ कमजोरियों या बुरी आदतों के चलते हम सफलता से कोस भर दूर रह जाते हैं और खुद को कोसते हैं.

ये भी पढ़े: मनुष्य का दुश्मन आलस को दूर करने के उपाय

उनमे से आलस भी एक ऐसी ही बुरी आदत है जो हमारी सफलता के रास्ते में बड़ी बाधा बनती है इस आलस के आगे हम भी घुटने टेक देते हैं लेकिन घुटने टेकने से सफलता का स्वाद कभी नहीं हासिल हो पाएगा जरूरत है इससे लड़ने की आलस पर विजय प्राप्त करने की.

तो चलिए बात करते है उन तरीको के बारे में जिनसे आप अपने आलस को दूर कर सकते है-

हर काम करने से पहले उसे कई भागों में बाटें

आलस महसूस होने की कई वजहें हो सकती हैं जैसे हमारा मोटापा, किसी काम में रूचि न होना, सफलता को लेकर मन में संशय होना आदि… इनसे निपटने के लिए सबसे पहले जरूरी है अपने लक्ष्य का निर्धारण करना अगर आपका लक्ष्य बड़ा है तो अपने लक्ष्य को कुछ छोटे-छोटे भागों में बाट ले.

याद रखें, छोटे-छोटे प्रयासों से ही एक बड़ा लक्ष्य हासिल किया जा सकता है इसलिए छोटे-छोटे लक्ष्य बनाएं जिसे हासिल करने पर आपको खुशी मिले और लक्ष्य के प्रति मन में उत्साह जगे रोज के जरूरी कामों की लिस्ट तैयार करें.

हर काम की प्लानिंग होनी चाहिए कोशिश करें कि हर काम निर्धारित समय में ही पूरा हो जाए ऐसा करने से आपके भीतर एक आत्मविश्वास पैदा होगा.

पूरी नींद लें इसमें कोई भी समझौता नहीं

विशेषज्ञों के अनुसार, एक वयस्क व्यक्ति को दिन में 6 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए ध्यान रहे, ना इससे कम नींद लें, न ज्यादा पूरी नींद लेने पर आप खुद को तरोताजा और ऊर्जावान महसूस करेंगे साथ ही सुबह जल्दी उठकर व्यायाम या योग करने से आपके भीतर की सुस्ती दूर होगी और आप एक फ्रेश डे की शुरुआत कर सकते है

ये भी पढ़े: How to Overcome Laziness in Hindi आलस्य पर काबू कैसे पाये

सुबह उठकर व्यायाम करना है जरूरी

रोज सुबह उठ कर खुद से वादा करें की आज मुझे 30 मिनट कम से कम तक व्यायाम करना है इससे आपके शरीर को ताकत मिलेगी और आपको आपके लक्ष्य के प्रति आप पूरी ईमानदारी से मेहनत करेंगे ऐसा करने से आप पर एक मनोवैज्ञानिक दबाव बनेगा जो आलस आने पर आपको सुस्ताने नहीं देगा सुबह उठ कर थोड़ी देर के लिए कल्पना करें कि आपने लक्ष्य हासिल कर लिया है और आप कितने खुश हैं। यह कल्पना आपको लक्ष्य के प्रति प्रेरित करेगी.

खान-पान के प्रति रहें सचेत

खान-पान के प्रति सचेत रहें क्योंकि आलस में हमारे असंतुलित खानपान का भी योगदान होता है फास्टफूड से खुद को दूर रखें फास्टफूड और जरूरत से ज्यादा मीठे पदार्थों का सेवन ना करे क्योकि ये सब मोटापे का कारण बनते है और मोटापा भी आलस का एक हिस्सा ही बन जाता है.

लक्ष्य हासिल करने का लें संकल्प

अपने हर काम और लक्ष्य को पूरा करने के लिए दृढ़तापूर्वक संकल्प लें इसके अतिरिक्त, अगर कभी आपको सुस्ती महसूस हो, तो तुरंत घर से बाहर कहीं टहलने निकल जाएं बेवक्त की नींद और आलस को खुद पर हावी न होने दें, सफलता की चाबी आपके हाथ में है.

तो इन उपायों से आप अपने आलस की बुरी आदत को दूर कर सकते हैं हमें पूरी उम्मीद है कि आपको आज का हमारा विषय बहुत अच्छा लगा होगा आज के लिए बस इतना ही हम फिर से हाजिर होंगे एक नये विषय के साथ तब तक के लिए हमें दीजिए इजाजत. नमस्कार

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.