How to Discover Strength अपनी स्ट्रेंथ पावर की खोज कैसे करें

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका सक्सेस इन हिंदी में इस पोस्ट में हम आपके लिए एक बेहतरीन जानकारी लेकर आए हैं जिसमें आज हम आपको बताने वाले हैं कि कैसे आप अपनी Strength का पता कर सकते हैं. इस दुनिया में हर इंसान के अंदर कुछ ना कुछ अलग होता है इसीलिए आप अपनी उस ताकत को कैसे खोज निकाले जिससे कि आप दूसरों से अलग बन सके.

इस पोस्ट को आखिर तक पढ़िए हमने आपको कुछ बेहतरीन तरीके बताए हैं जिससे कि आप अपनी स्ट्रेंथ के बारे में पता कर सके. इस संसार में कोई भी इंसान पूर्णता कंप्लीट नहीं है किसी के अंदर कुछ ना कुछ कमियां जरूर हैं अगर किसी के अंदर कोई कमी ना हो और वह पूर्णता इंसान हो तो वह इंसान नहीं भगवान कहलाता है.

find your strengths in hindi

दोस्तों, इसीलिए कहते हैं हर इंसान के अंदर कुछ कमजोरी होती है तो कुछ उसके अंदर ताकत भी होती है यानी जिसे हम स्ट्रेंथ बोलते हैं इस स्ट्रेंथ का मतलब होता है कि उसके अंदर कितना टैलेंट है किस चीज को लेकर या कितनी सामर्थ्य किसी काम को करने की.

ये भी पढ़ें: Habits of Successful People कामयाब लोगों की आदतें

वीकनेस Weakness कमजोरी को कहते हैं यानी किसी इंसान को किसी काम को करने में कोई दिक्कत आती है या किसी काम को वह कर नहीं पाता है या किसी काम में उसकी नॉलेज नहीं है, या कह सकते हैं कि किसी काम को करने में उसका मन नहीं लगता इन सबको इंसान की कमजोरी कहा जाता है.

दोस्तों, जैसा कि हमने आपसे बताया कि हर इंसान के अंदर कुछ वीकनेस और कुछ स्ट्रेंथ जरूर होती है किंतु सबसे जरूरी बात ये होती है आप उसको कैसे खोज पाए कि आपके अंदर क्या कमजोरी है और क्या आपकी ताकत है तो इस पोस्ट को आगे पढ़ते रहिए हमने कुछ तरीके ऐसे बताएं जिससे आप अपनी पावर/ताकत का पता कर सकते हैं-

1. ध्यान दे, आप दुसरो की तुलना में क्या अलग करते हो Notice what you do differently than everyone else

दोस्तों, एक छोटी सी बात है एक परिवार में 4 से 5 सदस्य होते हैं सबके स्वभाव अलग-अलग होते हैं सबके काम करने के तरीके भी अलग-अलग होते हैं सबके सोचने के और बात करने के तरीके भी अलग-अलग होते हैं. यहीं से आप एक Idea लगा सकते हैं कि पूरे संसार की कहानी इसी पर टिकी हुई है.

ये भी पढ़ें: अपनी पहचान कैसे बनाएं How to Create Own Identity

अब आप को ध्यान देना ये है कि आप दूसरों से कितना अलग है यहां आपको दूसरों के प्रति अपने अंतर्मन में तुलना करनी चाहिए कि आप दूसरों से अलग क्या करते हैं दूसरों से अलग कैसे सोचते हैं या आपका जो लोगों से बात करने का तरीका है वह दूसरों से कितना अलग है या कितना उसमें आप अलग कर पा रहे हैं इन्हीं सब बातों पर आपकी स्ट्रेंथ निकलकर आती है और आपको पता चलता है कि आप के अंदर कितनी पावर है कितनी ताकत है.

2. अपनी रचनात्मक शक्तियों के बारे में बात करे Describe your strengths creatively

दोस्तों, जैसे कि हमने आपको पहले पॉइंट में बताया कि आप यह पता करने की कोशिश करें कि आप दूसरों से कहां और कितने अलग हैं यह तुलना करना बेहद जरुरी है अगर आपको अपनी strength के बारे में पता करना है क्योंकि अगर आपने अपनी power का पता कर लिया कि किस क्षेत्र में आपके पास पावर है और किस क्षेत्र में आपकी कमजोरी है तो आपके लिए आगे का काम बहुत आसान हो जाता है.

अब जब आपको आपकी ताकत और आपकी कमजोरी पता चल गई तो अपनी कमजोरियों को साइड में उठाकर रख दीजिए किंतु यह आपको हर समय पता जरुर होनी चाहिए, क्योंकि जब आप कोई काम आगे करते हैं तो आपको पता होता है कि आप की क्या कमजोरी है तो उस कमजोरी को दूर करने के लिए आप पहले से ही इंतजाम कर लेते हैं.

ये भी पढ़ें: अगर 7 सवालों के जबाब जानते है तो बदल जाएगी जिंदगी

अब आपको अपनी शक्तियां अपनी ताकत अपने स्ट्रेंथ के बारे में बात करनी है आप को समझना है कि कैसे आप अपनी ताकत को दोगुना कर सकते हैं इसके लिए जरूरी है कि आप अपने परिवार में अपने दोस्तों से अपने पर्सनल नेटवर्क में, अपनी शक्तियों के बारे में बात करें और ऐसा भी ना करें कि दूसरों को सिर्फ यही लगे कि आप अपनी खुद बढ़ाई कर रहे हैं.

ध्यान रहे अपनी शक्तियों के बारे में बात करें किंतु जो आपके सामने व्यक्ति है उसके भी मान-सम्मान का ख्याल रखें ऐसा करने से सामने वाला आपकी ताकत को पहचान जाएगा और आप को एक अलग तरीके का आचार व्यवहार समाज में और आपके नेटवर्क में आपको मिलने लगेगा जो आपकी एक strength बन जाएगी.

3. उत्साह के संकेत को देखे Watch for signs of excitement

हमें अपनी जिंदगी के हर छोटे से छोटे मोमेंट को सेलिब्रेट करना चाहिए हमें यह इंतजार नहीं करना चाहिए कि जब बड़ा कोई इवेंट हमारी जिंदगी में आएगा, जब हमे कोई बड़ी सक्सेस मिलेगी तभी हम सेलेब्रेट करेंगे ऐसा नहीं करना चाहिए.

दोस्तों, अपनी स्ट्रेंथ का पता करने का एक और तरीका होता है कि आप हर समय अपनी लाइफ के छोटे से छोटे मोमेंट के लिए उत्साहित रहें यानी की आपके अंदर हर समय एक्साइटमेंट रहना चाहिए किसी भी काम को लेकर क्योंकि अगर आप के अंदर आत्मविश्वास नहीं होगा तो कोई भी काम में आपका मन नहीं लगेगा और जब किसी काम में मन नहीं लगता है तो उस काम में आपका 100% नहीं नहीं जायेगा.

ये भी पढ़ें: कैसे बने एक Entrepreneur ये काबिलियत है जरूरी

यदि आप किसी काम को करने के लिए अच्छा महसूस नहीं कर रहे और आपके पास कॉन्फिडेंस लेवल है तो आप बहुत अच्छा कर जाते हैं उसकी उम्मीद भी आपको नहीं होती है. कभी-कभी तो आप किसी काम में एक्सपर्ट भी नहीं होते किंतु आपके इंटरेस्ट के ऊपर यह निर्भर होता है कि आपने उसमें कितना समय और कितनी रुचि के साथ दिया तो आप की परफॉर्मेंस दूसरों से भी अच्छी हो जाती है.

इसीलिए अपनी पावर का पता करने के लिए आपको हर समय उत्साहित रहना चाहिए और अपनी जिंदगी के छोटे से छोटे मोमेंट का आपको इंतजार रहना चाहिए जिसे आप सेलिब्रेट कर सकें.

दोस्तों, इस पोस्ट में हमने आपको बताया कि कैसे आप अपनी स्ट्रेंथ को खोज सकते हैं कैसे आप अपनी पावर का पता करें जिससे कि आपकी लाइफ आसान हो जाए और आप एक ऐसे रास्ते पर चल पड़े जहां सफलता आपका इंतजार कर रही है. हम आपको एक सलाह देंगे कि आप कम से कम आज ही अपने अंदर एक strength और एक weakness का जरूर पता करें फिर उन दोनों पर काम करें कमजोरी को साइड में रख दें और अपनी स्ट्रेंथ के साथ काम करें.

पोस्ट अच्छी लगे तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करें और यदि आपका कोई सवाल है तो कमेंट में करना ना भूले. यदि आपके पास हमारे लिए कोई सुझाव है तो भी कमेंट करके अवश्य बताएं. धन्यवाद

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.