अपने Employee को Motivate कैसे करें

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका सक्सेस इन हिंदी में इस पोस्ट का विषय है एम्प्लोयी को मोटिवेट कैसे करें, बहुत सारी कंपनियां या बहुत सारे ऐसे लोग हैं जिनके पास दूसरे लोग काम करने आते हैं. किन्तु उन कंपनियों और उन लोगों के सामने एम्प्लोयी के काम ना करने की समस्याएं आती है. हमने इस पोस्ट के द्वारा कुछ ऐसे तरीके बताएं हैं जिनसे आप अपने एम्प्लोयी को मोटिवेट कर सकते हैं कैसे अपने एम्प्लोयी का आत्मविश्वास बढ़ा सकते हैं.

अगर आप एक बिजनेसमैन हैं और यदि आपके एम्प्लोयी का आत्मविश्वास कमजोर हो रहा है या जैसे परफॉर्मेंस की उम्मीद आप अपने एम्प्लोयी से कर रहे हैं वैसा रिजल्ट वें नहीं दे पा रहे हैं, तो ये आर्टिकल आपके बहुत काम आने वाला है. इस पोस्ट में जो टिप्स हमने आपको बताए हैं उन्हें बहुत ही ध्यान से पढ़े और उन पर अमल करने की कोशिश करें.

how to motivate your employee

अक्सर देखा जाता है कोई भी एम्प्लोयी जब किसी आर्गेनाईजेशन या किसी ग्रुप में काम करता है तो सिर्फ उसे अपनी जॉब लाइफ यानी कि 9 घंटे के हिसाब से ही काम करना होता है और उसके हिसाब से कंपनी उसे महीने के आखिर में सैलरी देती है.

ये भी पढ़ें: एक सफल उद्यमी ‘एंटरप्रेन्योर’ बनने के तरीके

किन्तु इन 9 घंटे में भी कुछ एम्प्लोयी ऐसे होते हैं जो अपनी जिम्मेदारी बहुत अच्छे से नहीं निभाते हैं या कुछ अपने पर्सनल कामों में ही उलझे रहते हैं ऐसे एम्प्लोयी को आप कैसे सही रास्ते पर ला सकते हैं कैसे उनका समय प्रोडक्टिव बना सकते हैं.

अगर आप एक अच्छे लीडर हैं और आपकी टीम में बहुत सारे लोग हैं अगर आप एम्प्लोयी से प्रोडक्टिव टाइम लेना चाहते हैं उनके काम से बहुत अच्छे रिजल्ट लेना चाहते हैं तो दोस्तों जो तरीके हम आपसे बताने जा रहे हैं उन तरीकों को अपनाएं और अपने एम्प्लोयी को मोटिवेट करें-

1. एम्प्लोयी के उद्देश्य को बढ़ावा दे Promote purpose

सबसे पहले यह जरूरी है कि जो आपका एम्प्लोयी है उसका उद्देश्य जानने की कोशिश करें, अब यह कैसे होगा कि कैसे आपको पता चलेगा आपके एम्प्लोयी का उद्देश्य क्या है. इसके लिए बड़ा सरल उपाय है आप अपने एम्प्लोयी से बात करें और ये जानने की कोशिश करे आपका क्या उद्देश्य है जीवन में, आप अपनी जॉब लाइफ से क्या चाहते हैं.

ये सारे सवाल करने के बाद आपको आपके एम्प्लोयी का उद्देश्य पता चल जाएगा फिर उसके बाद अपने एम्प्लोयी एंप्लोई का उद्देश्य बढ़ाने के लिए काम करें जिस काम में उसका उद्देश्य सिद्ध होता दिख रहा हो उसे उसी काम में लगाएं. ऐसा करने से उसके काम में क्वालिटी और परिणाम बहुत अच्छे आएंगे.

2. सक्रिय रूप से सुनें और प्रश्न पूछें Actively listen and ask open questions

अपने एम्प्लोयी को मोटिवेट करने का यह एक और अच्छा तरीका है कि आप उनके साथ एक्टिव रहें और समय-समय पर उनसे बातचीत करते रहें. ऐसा करने से एम्प्लोयी के मन में अगर कोई सवाल है तो वह आपसे पूछ लेता है या आप ही इस चीज की पहल कर सकते हैं अपने एम्प्लोयी से कुछ प्रश्न करें हो सकता है वह पर्सनल हो सकता है वह काम को लेकर के हो साफ-साफ उन सवालों पर अपने एम्प्लोयी के जवाब सुने.

किस तरह के सवाल जवाब कर सकते हैं आइए हम आपको बताते हैं-

  • तुम ऐसा क्यों करना चाहते हो Why do you want to do that?
  • ऐसा की अहइ जो तुम उत्साहित बनाता है What makes you so excited about it?
  • आपका सपना कितना लंबा है How long has that been your dream?

3. मोटीवेट लहर को पकड़ो Catch them in a motivational wave

इस दुनिया में हर इंसान को मोटिवेशन की बड़ी आवश्यकता होती है अगर आप एक अच्छे लीडर हैं और आप अपने एम्प्लोयी को या अपने साथ काम करने वाले लोगों को मोटिवेट करना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें: जानिए क्यों आपको Job करनी चाहिए

तो उन्हें कुछ मोटिवेशनल लोगों से मिलाएं कुछ मोटिवेशनल गतिविधि उनके साथ करें ऐसा करने से उनके अंदर भी उस तरह का कुछ करने की इच्छा जागृत होगी. यानी कि अंदर का जो आत्मविश्वास है वह बढ़ता है और हो सकता है कि यह उनकी लाइफ का एक टर्निंग पॉइंट हो जिसके बाद वह दूसरों के लिए एक मोटिवेशन बन जाए.

4. खुद को सर्वोच्च प्रदर्शन पर रखें Keep yourself at peak performance

अपने एम्प्लोयी को बताएं कि वह खुद को प्रदर्शन के मामले में सबसे आगे रखें अपने मन में एक भावना प्रकट करें कि मैं इस काम में सबसे अच्छा कर सकता हूँ. उनके अंदर किसी भी काम को करने की इच्छा जागृत करें और उन्हें उस काम में परफेक्ट बनाने की कोशिश करें ऐसी भावना अगर आपने अपने एम्प्लोयी के अंदर प्रगट कर दी तो आपका एम्प्लोयी हर किसी काम में ऐसा प्रदर्शन करेगा फिर वह सबसे आगे रहने की कोशिश करेगा.

5. स्वयं से प्रेरणा लें Self motivation

अपने एम्प्लोयी को बताएं की सबसे बड़ी आत्मशक्ति इंसान स्वयं से ही ले सकता है इसीलिए कोशिश करें, अपनी सेल्फ मोटिवेशन को बनाए रखें और अपने अंदर एक चिंगारी जलाए रखें अगर यह चिंगारी आपके अंदर जल ही रहेगी तो आने वाले समय में आप किसी भी काम को करने के लिए हमेशा तैयार रहेंगे और आपके काम करने के जो तरीके होंगे वो सबसे अलग होंगे और जब आपके काम करने के तरीके अलग होंगे तो जाहिर सी बात है उनके परिणाम भी दूसरों से अलग होंगे.

ये भी पढ़ें: अपनी Strength की खोज कैसे करें

दोस्तों, इन सब तरीकों से आप अपने एम्प्लोयी को मोटिवेट कर सकते हैं उनके अंदर आत्मविश्वास जगा सकते हैं अगर आप ऐसा करने में सफल हुए तो आपकी टीम वह कर जाएगी जो आप अपनी टीम से चाहते हैं.

यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ WhatsApp पर शेयर करना ना भूले. धन्यवाद

Vipin Lambha

Hello everyone, I am an Entrepreneur with Startup & Digital Media expert by profession and passionate for Blogging.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *