Board Exam Tips in Hindi बोर्ड एग्जाम की तैयारी कैसे करें

किसी भी एग्जाम को लेकर, पढ़ने वाले बच्चो और उनके माता पिता के मन में एक सवाल एक डर लगा रहता है इस बार कैसे जाएंगे board exam मार्क्स अच्छे लेन के लिए क्या करे कैसे करे तैयारी, आज इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे Board Exam Tips in Hindi.

सभी पढ़ने वालो को नमस्कार दोस्तो, कैसे हैं आप? हमें उम्मीद है कि आप सभी लोग बहुत अच्छे से होंगे, दोस्तों हमारा आज का विषय उन साथियों के लिए हैं जो बोर्ड एग्जाम देने जा रहे हैं.

ये हम सब जानते हैं कि बोर्ड एक्जाम आते ही छात्रों पर काफी दबाव होता है और उनके अभिभावक समेत हर किसी को उनसे अच्छे नंबरों की उममीद होती है जाहिर है, इस उम्मीद पर खरा उतरने के लिए हर छात्र अपनी तरफ से टॉप करने, या फिर अच्छे number प्राप्त करने की पूरी कोशिश करता है.

आज हम उन्हीं छात्रों के लिए एक विषय लेकर आए हैं जो उनके बोर्ड एक्जाम के लिए सहायक साबित होगा और इसका अनुसरण करने से उन्हें निश्चित रूप से फाएदा होगा.

Exam Tips तो आइए जानते हैं कि बोर्ड एक्जाम के लिए छात्रों को किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए

1 – किसी भी चीज को रटें नहीं कॉन्सेप्ट समझें

अक्सर देका गया है कि छात्र किसी भी प्रश्न के उत्तर को सिर्फ रटने ही हैं जो कि बिल्कुल गलत है रटने की बजाए छात्र कॉन्सेप्ट को समझेंगे तो उन्हें ज्यादा फाएदा होगा, क्योंकि जरूरी नहीं कि आपने जिस प्रश्न का उत्तर रटा है वही प्रश्न आपसे एक्जाम में भी पूछा जाए.

बल्कि एक्जाम में आपसे उसी प्रश्न को अलग तरीके से पूछा जा सकता है और अगर आपको कॉन्सेप्ट क्लियर है तो निश्चित रूप से आप उस प्रश्न का उत्तर दे देंगे, भले ही प्रश्न को कितना भी घुमा-फिरा कर पेश किया गया हो.

2 – जरूरी टॉपिक्स के नोट्स बनाएं

छात्रों के साथ अक्सर यह दिक्कत आती है कि वह किसी भी जरूरी टॉपिक को एक बार पढ़ तो लेते हैं, लेकिन वह उस टॉपिक के नोट नहीं बनाते इससे उन्हें एक बार पढ़ने पर थोड़ा-बहुत याद तो रहता है, लेकिन कन्फ्यूजन की स्थिति बरकरार रहती है.

ऐसे में छात्रों को ऐसी किसी भी समस्या से निजात पाने के लिए जरूरी है कि वह जरूरी टॉपिक्स के नोट बना लें, जिससे उन्हें पढ़ने और समझने में आसानी होगी.

3 – सैंपल पेपर का सहारा लें

छात्रों को सैंपल पेपरों का जमकर सहारा लेना चाहिए इससे उन्हें एर्जाम के पैटर्न और तरीके का Idea लग जाता है सैंपल पेपर से छात्रों को यह भी अंदाजा लग जाता है कि वह कितने घंटे में पेपर सॉल्व कर सकता है.

सैंपल पेपर में जरूरी सवाल होते हैं और उनके हल भी होते हैं ऐसे में अंत में छात्रों को सैंपल पेपर का सहारा जरूर लेना चाहिए.

4 – Daily Practise रोज पढ़ें एक दिन पर ना टालें

छात्रों को अक्सर देखा जाता है कि वह ये सोचते हैं कि यार अभी तो एक्जाम में इतना समय बचा है और उसी हिसाब से आखिरी में पढ़ लेंगे जो कि बिल्कुल गलत तरीका है Daily पढ़े तो अपनी to do list में सब कुछ नोट करके रखे .

जल्दबाजी में कोई पढ़ाई नहीं हो पाती और इससे हम और ज्यादा कन्फ्यूज हो जाते हैं क्योंकि आखिर में हम हर विषय पढ़ने और याद करने की कोशिश करते हैं, जिससे की दिमाग में खिचड़ी पकने का डर रहता है.

इसलिए जरूरी है कि छात्र निरंतर पढ़ाई करे भले ही वह दिन में कुछ घंटे ही पढ़ें, लेकिन उन्हें रोज तैयारी करनी चाहिए, बजाए इसके कि वह एक ही दिन पूरे सिलेबस को निपटाने के लिए जाएं.

5 – समय के हिसाब से चलें

समय को सफलता की कुंजी कहा जाता है इसलिए अगर आपको भी सफलता पानी है तो जरूरी है कि आप भी अपने समय का सदुपयोग करें, आपको अपना समय इस प्रकार निर्धारित करना चाहिए time की importance को समझे , जिससे आपके पढ़ाई और अन्य कामों के बीच टकराव कि स्थिति पैदा ना हो और आप आसानी से अपनी पढ़ाई पर ध्यान दे सकें.

हर विषय को समय के अनुसार बांट लें, जिस विषय में आपकी पकड़ कमजोर है, उसे ज्यादा से ज्यादा समय दें जो टॉपिक हमें आते हैं, उनको हम अक्सर दोहराने के लिए पूरा समय नहीं दे पाते.

लेकिन ये गलती न करें, बल्कि विषय के लिए बराबर का समय न‍िश्चि‍त करें.

6 – घबराएं नहीं अपने पर दबाव ना आने दें

बोर्ड एक्जाम की तारीख नजदीक आते ही छात्रों पर अतिरिक्त बोझ देखने को मिलता है और बोझ के कारण वह खुद पर दबाव बना लेते हैं डरे नहीं अपने अंदर आत्मविश्वास बनाये रखे.

यह दबाव बोर्ड का तो होता ही है, साथ ही उनके अभिभावकों, आस पास रहने वाले लोगों का भी होता है हर कोई उन्हें बोर्ड का हऊवा दिखाता है, जिससे छात्र घबरा जाते हैं हर कोई उनसे कहता है कि बोर्ड का एक्जाम है, नंबर अच्छे नहीं आए तो अच्छा कॉलेज नहीं मिलेगा उन्हें इस तरह से ट्रीट किया जाता है, जैसे की यही उनकी जिंदगी की सबसे बड़ी जंग हो.

ये बिल्कुस गलत है और अभिभावकों के साथ हर शख्स को समझना चाहिए कि इससे छात्र के मन पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है और वह अपना बेस्ट देने से भी चूक सकता है इसलिए बजाए छात्रों को डराने के हमें उन्हें विश्वास दिलाना चाहिए और बताना चाहिए कि आप सिर्फ मेहनत करिए बाकी मेहनत का फल हमेशा अच्छा मिलता है.

तो दोस्तों इन तरीकों से आप बोर्ड के एक्जाम आसानी से निकाल सकते हैं अच्छे नंबर ला सकते है और अपने Parents को ख़ुशी दे सकते है.

बस आपको खुद पर विश्वास बनाए रखना होगा और किसी भी दबाव से खुद को दूर रखना होगा बाकी उन सभी छात्रों को हमारी तरफ से बहुत-बहुत शुभकामनाएं जो बोर्ड के पेपर में उत्तीर्ण होने जा रहे हैं, और हम कामना करते हैं कि आप सभी अच्छे नंबरों से पास होंगे.

तो आज के लिए बस इतना ही, हम एक बार फिर से आपसे रूबरू होंगे, एक नए विषय के साथ जो आपसे जुड़ा हुआ होगा. धन्यवाद!

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.