How to Use Your Super Power Inspirational Story

दोस्तों कहते है जब आदमी के पास किसी काम को करने की शक्ति होती है और वह उस शक्ति को सही तरीके से उपयोग करता है.

जिससे समाज कुछ भला होता हो तो उसे वो काम करना चाहिए और लोगो के काम आना चाहिए लेकिन अगर वह खुद अपने फायदे के वारे में ही सोचता हो और अपने ही लिए करता है तो अंत में वो शक्ति खुद उसके काम भी नहीं आती है.

कुछ ऐसा ही इस लेख के जरिये में आप लोगो को बताना चाहता हूँ.

बहुत सारे लोग तो पहले से ही जानते होंगे लेकिन कुछ लोगो को कही से पढ़ कर बात जल्दी समझ में आती है और अपनी असल जीवन में उनको उतार लेते है.किसी शहर में एक आदमी पशु और पक्षियों का छोटा सा व्यापार किया करता था और उसी से अपना जीवन यापन करता था.

एक दिन उसे पता लगा कि उसके गुरु जी को पशु और पक्षियों की बोली समझ में आती है.उस आदमी के मन में ये विचार आया कि यह कितना अच्छा होगा अगर मुझे ये सारी शक्ति मिल जाये जिससे में पशु और पक्षियों की बोली समझ जाऊ.

व्यापारी अपने गुरु जी के पास पहुँच गया उसने अपने गुरु जी की खूब अच्छे से सेवा पानी की और सही मौका देखकर उसने गुरु जी से कहा आप मुझे पशु और पक्षियों की बोली समझने की विद्या सिखाने की कृपया करे आपकी अति कृपया होगी ऐसा बोल कर अपने गुरु से आग्रह किया.

उसके गुरु ने उसे वो विद्या सिखा तो दी लेकिन साथ ही उसे यह भी चेतावनी दी कि वो अपने लोभ के लिए इसका इस्तेमाल नहीं करें अन्यथा उसे इस का नुकसान उठाना पड़ेगा आदमी ने हामी भर दी और अपने घर वापस आ गया.

एक दिन उसने अपने कबूतरों के जोड़े को यह कहते हुए सुन लिया कि हमारे मालिक का घोडा आज से दो दिन बाद मरने वाला है.

इस बात को सुनकर आदमी ने अगले ही दिन घोड़े को अच्छे दाम पर बेच दिया अब उसे भरोसा होने लगा कि पशु और पक्षी भी एक दूसरे को अच्छे से जानते है.फिर कुछ दिनों के बाद उसने अपने कुत्ते को यह कहते हुए सुना कि मालिक की सारी मुर्गिया बहुत जल्दी ही मर जाएँगी फिर क्या था.

उसने उसी दिन बाजार में जाकर मुर्गियों को बहुत अच्छे दामों पर बेच दिया और कई दिनों बाद उसने सुना कि शहर में महामारी आने की वजह से लोगो की मुर्गिया मर चुकी है इस पर वो बड़ा खुश हुआ कि चलो मेरा lose नहीं हुआ.अब उसको संका रहने लगी की कब कोई पशु और पक्षी क्या बोल दे और मेरा क्या नुकसान हो जाये तो वह उनके आस पास ही रहने लगा.

कुछ time बाद जब उसने एक दिन अपनी बिल्ली को यह कहते हुए सुना कि हमारा मालिक अब तो कुछ ही दिनों का मेहमान और जल्दी मरने वाला है पहले तो उसे विश्वास ही नहीं हुआ.

बाद में अपने गधे को भी वही बात कहते हुए सुना वह बहुत अधिक घबरा गया और अपने गुरु के पास गया.

गुरु जी के पास जाकर बोला कि मेरे अंतिम क्षणों में मेरे करने योग्य कोई काम है तो मुझे बता दीजिये क्योंकि मेरी मृत्यु का समय निकट आ गया है.

यह बात सुनकर गुरु ने उसे डांटा और कहा कि मूर्ख मेने पहले ही तुझसे कहा था कि ये शक्ति अपने हित के लिए इनका उपयोग मत करना क्योंकि सिद्धियाँ न किसी की हुई है और न किसी की होंगी.इन सारी बातो के देख कर मैंने ये सब तुझे बताया था अगर तू इन शक्तिओ का उपयोग अपने लाभ के लिए करेगा तो तुझे नुकसान उठना पड़ेगा इस लिए सदा अपनी विद्या का सही उपयोग करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

For Self Improvement & Motivational Tips Type Your Email ID: