The Force of Unity एकता का बल

Force of Unity

कहते है की अलग-अलग काम करने या रहने से अपनी कमजोरी होती है यदि हम कुछ लोग मिलकर रहे तो एक बहुत बड़ी शक्ति बन जाते है इसलिए ही कहा गया है Inspirational Story The Force of Unity एकता का बल.

शायद ये कहानी आपको एक छोटा सा उदाहरण दे सकती है की एकता में ही अधिक बल होता है.

बहुत पुराने time की बात है कबूतरों का दल आकाश में भोजन की तलाश में उडता उड़ रहा था कुछ गलत फहमी से उनका दल भटककर ऐसी स्थान जा निकला जहां भयंकर अकाल पडा हुआ था.

कबूतरों का सरदार बहुत चिंतित था क्यूकी body की सारी power समाप्त होती जा रही थी अगर कुछ देर में दाना नहीं मिला तो बहुत दिक्कत हो जाएगी दल उड़ते-उड़ते सूखाग्रस्त क्षेत्र से बाहर आया नीचे हरियाली नजर आने लगी तो भोजन मिलने की उम्मीद बनी.

एक जगह पर अनाज दाने बिखरे हुए मिले सरदार ने कबूतरों को नीचे उतरकर खेत में बिखरा दाना चुगने का आदेश दिया कबूतरो का सारा दल नीचे उतरा और दाना चुनने लगा.

लेकिन यह अनाज के दाने एक शिकारी ने डाल रखे थे जिससे कोई भी यह देख कर आएगा और उसके जाल में फस जाये जैसे ही कबूतर दल दाना चुगने लगे.

सारे कबूतर जाल में फंस गए कबूतरों के सरदार को समझ आ गया की यह हमे फंसाने के लिए फैलाया गया जाल था लेकिन अब पछताए होत क्या, जब चिडिया चुग गई खेत|

सब कबूतर डरने लगे की हम सब मारे जायेगे हिम्मत हार बैठे थे परन्तु सरदार गहरी सोच में डूबा था उसने कहा सुनो अगर जाल मजबूत हैं.

तो ठीक हैं पर इसमें इतनी भी शक्ति नहीं कि एकता की शक्ति को हरा सके हम सब अपनी सारी शक्ति को जोडे तो मौत के मुंह में जाने से बच सकते हैं.

सरदार बोला हम सब चोंच से जाल को पकडे और फिर जब मैं फुर्र कहूं तो एक साथ जोर लगाकर उडना जाल को लेकर हम उड़ सकते है सबने ऐसा ही किया तभी जाल बिछाने वाला शिकारी वहां आता दिखाई दिया जाल में कबूतर को फंसा देख जाल की ओर दौडा.

शिकारी को देख कर सारे कबूतर एक साथ जोर लगाकर उडे तो पूरा जाल हवा में ऊपर उठा और सारे कबूतर जाल को लेकर ही उडने लगे कबूतरो के सरदार ने शिकारी को नीचे जाल के पीछे दौडते देखा.

तो उसका इरादा समझ गया सरदार भी जानता था कि अधिक देर तक कबूतर दल के लिए जाल सहित उडते रहना संभव न होगा.

सरदार के पास इसका एक समाधान था पास ही एक पहाडी पर बिल बनाकर उसका एक चूहा मित्र रहता था सरदार ने कबूतरों को तेजी से उस पहाडी की ओर उडने का आदेश दिया पहाडी पर पहुंचते ही सरदार ने चूहे को सारी बात बताई.

कबूतरो के सरदार ने मित्र चूहे की सहायता से जाल कटवा कर उन्हें आजाद करा दिया सरदार ने अपने मित्र चूहे को धन्यवाद दिया और सारा कबूतर दल आकाश की ओर आजादी की उडान भरने लगा.

ये सब एक साथ बल लगाने की बजह से ही संभव हो पाया इसलिए कहते है एकता में बड़ी शक्ति होती है हमे मिल जुल कर रहना चाहिए Inspirational Story The Force of Unity एकता का बल. धन्यवाद

Leave a Comment