व्यक्तित्व विकास में सुधार कैसे करे – 10 Personality Improvement Tips in Hindi

वैसे तो life में हमे, आपको हमेशा कुछ ना कुछ नई-नई बातो का experience होता ही रहता है उन्ही में से जो अनुभव हमे मिलता है उससे हमे नया सिखने को मिलता है कुछ ख़राब चीजे भी अनुभव में आती है उसके हिसाब से hume apni personality me sudhar lana होता है क्या है वो तरीके व्यक्तित्व विकास में सुधार कैसे करे – 10 Personality Improvement Tips in Hindi. संसार में कोई भी इंसान इस धरती पर perfect नहीं है हर किसी के अंदर कोई ना कोई खामी जरूर होती है.

कैसे करे इस खामी को दूर इसमे आपकी अपनी कमियों को दूर करने के लिए सबसे अच्छे सहायक आप खुद है इसके लिए अपनी अंदर की शक्ति का उपयोग करे. आपको सीखना होगा जो भी आपके साथ घटित होता है आपको खुद analysis करनी होगी मेरे साथ क्या हुआ और मैंने क्या किया जैसे हमने पहले बताया. कोई भी person परफेक्ट नहीं है हाँ इतना जरूर है ये तरकीब अपना कर आप अपनी personality को improve कर सकते है.

हालाकि अपने साथ क्या हुआ और मैंने क्या किया इसका विश्लेषण हम जरूर करते है लेकिन समझदार लोग वो होते है जो time के रहते अपने आप को इम्प्रूव करते है और अपने जीवन में आगे बढ़ते चले जाते है.

10 Personality improvement tips in hindi

सबसे बढ़िया तरीका है आप एक लिस्ट बनाये की आपने अपने अंदर क्या कमियां देखी है क्योंकि आपको आपसे अच्छा कोई नहीं जानता है साथ में ये ध्यान रखे वो कमी किन condition में आपको आयी.

कमी आना कोई बड़ी बात नहीं है बड़ी बात तो ये है आप उस कमी को छुपाने के चक्कर में उससे दूर भागने लगे अगर आप इनसे दूर भागेंगे तो ये आपका पीछा नहीं छोड़ेगी अच्छा तो ये होगा आप इनका डट कर सामना करे और इन्हे मिटा दे.

अपने अंदर के talent को जाने और उसका इस्तेमाल करे अपने रोजाना के व्यव्हार में जिससे आपके चरित्र का अच्छा निर्माण होगा तथा लोगो से मिलते हुए बात करते हुए बहुत सावधानी बरतनी होगी फिर आपकी पर्सनालिटी डेवलपमेंट होना start कर देगी.

आईये, कुछ ऐसे ही point to point बात करते है जिससे आप अपनी personality improve कर सकते है बड़ी आसानी के साथ अत: जीवन मे सफलता प्राप्त करने के लिए या लोकप्रिय बने रहने के लिए 20 गुर नीचे दिऐ जा रहे हैं-

1. आपको हमेशा मुस्कराते रहना चाहिए प्रसन्नता व मुस्कराहट बिखेरने वाले लोगो के सैकडो मित्र होते है कोई भी व्यक्ति उदास चेहरे के पास बैठ्ना पसंद नही करता ना ही बात करना.

2. बातचीत मे अपनी तकलीफों या अपनी व्यक्तिगत दिक्कतों के बारे में रोना मत रोइए क्योकि लोग इस से आप के पास आने से हिचकिचाएगें वे यही समझेंगे कि उसके पास जाते ही बह अपनी तकलीफों की कहानी सुनना शुरू करने लग जायेगा.

3. दुसरो की तारीफ जी भर कर किजिए पर तारीफ इस तरह होना चाहिए कि समने वाले को ऐसा न लगे कि आप उसे मुर्ख बना रहे है इसका प्रभाव गलत भी पड़ सकता है इससे बचे.

4. बातचीत मे हमेशा सामने वाले को ज्यादा से ज्यादा बोलने का मौका दीजिए और आप यथासम्भव कम बोलिए सामने वाले को लगेगा की आप उसकी बातो में पूरा interest ले रहे है ऐसा भी न करे कि आप बिल्कुल चुप रहें.

5. आप के वस्त्र सूरुचिपूर्ण हों तथा आपकी बातचीत मे किसी प्रकार से हलकापन न हो आप गम्भीरता से अपनी बात को कहने का प्रयत्न किजिए आपकी बात में वजन होना चाहिए ये self confidence का प्रतीक है.

6. किसी भी अधिकारी या बड़ी से बड़ी पोस्ट वाले व्यक्ति से मिलते समय मन मे किसी प्रकार की हिचकिचाहट या डर का अनुभव न करे अपनी बात नम्रता से पर दृढतापूर्वक उस के सामने रखिए और समय का ध्यान रखे importance of time.

7. बार-बार अपनी गलती स्वीकार मत किजिए और बार बार क्षमा याचना करना भी ठीक नही है इससे आपका हल्का पन होता है अगर आप गलत है तभी माफ़ी मांगे.

8. किसी भी प्रकार से अपने उपर क्रोध को हावी मत होने दिजिए यदि सामने वाला क्रोध करता भी है तो चुपचाप सहन कर लिजिए केवल क्रोध को सहन करने के बाद ही वह पछताएगा और आप के प्रति उसका सम्मान जरुरत से ज्यादा बढ जाऐगा.

9. Friend को या किसी को भी मिलते समय उसको उस के नाम से बुलाएँ और उस से ऐसी बातचीत करे जो उस को अच्छी लगती हो वो आपसे खुश रहेगा.

10. हमेशा आप ऊची सोसाइटी मे रहिए अच्छे-अच्छे लोगो के बीच रहे यदि आप किसी एक अधिकारी के साथ आधे घंटे के लिए भी घूम लेंगे तो लोगो मे आप का सम्मान और प्रतिष्ठा बढ जाएगा बजाये बहुत सारे कलंकित लोगो के साथ.

11. हो सके तो आप यथासंभव कम से कम असत्य बोलिए क्योकि असत्य ज्यादा समय तक नही चलता एक ना एक दिन सच सामने आ ही जाता है खुद पर विश्वास रखे.

12. अपने आपको हमेशा तरो ताज़ा रखिए क्योकि बीमार कमजोर और सुस्त या आप थके हुए लगेगें तो आप ज्यादा उन्नति नही कर पाऐगे और न समाज मे ज्यादा लोकप्रिय हो सकेगें.

13. सडक पर खडे खडे कुछ मत खाईये इसी प्रकार असभ्य भाषा का प्रयोग करते हुए साथियो के बीच भी न खाऐं तो ज्यादा उचित होगा हमेशा कुछ भी कहते हुए पर्दा रखे.

14. वस्त्र साफ हों स्वच्छ और आप के प्रकृति के अनुकूल हों लोगों को देख कर या उनके अनुकूल कपडे पहना आपकी personality के अनुकूल नही होगा और लोग आपकी मजाक भी बना सकते है.

15. पुरे साल मे एक या दो बार अपने मित्रो या अधिकारियों को उपहार अवश्य दें चाहे वह उपहार कम कीमत की ही क्यो न हो पर उपहार ऐसा होना चाहिए जो स्थाई हो और हमेशा उनकी नजरो के सामने रह सके.

Blog कैसे शुरू करें

एक बिशेष बात जो हम आपको बताना चाहते है अपनी स्मरण शक्ति प्रखर रखिए यथासंभव मित्रो व परिचितों के नाम याद रखिए क्योंकि आप उनको नाम लेकर बुलाते है तो इससे बहुत impact पड़ता है व्यक्तित्व विकास में सुधार कैसे करे – 10 Personality Improvement Tips in Hindi

इस बात का ध्यान रखिए कि आप की बातचीत से सामने वाले का ईगो संतुष्ट होना चाहिए ऐसा ना हो की आप सब कुछ कह गए हो और उसको कुछ भी पल्ले ना पड़ा हो सामने वाला जिस प्रकार का या जिस रुची का व्यक्ति हो उसी के अनुरुप बातचीत करें.

Thank you!

10 thoughts on “व्यक्तित्व विकास में सुधार कैसे करे – 10 Personality Improvement Tips in Hindi”

  1. आपकी टिप्‍स बेहद व्‍यवहारिक प्रतीत हैं। मैं भी इन्हें ट्राई करने का प्रयास करूंगा।

    Reply
  2. मैं तो कहता हूँ की सर आपने सफलता का एक मंत्र दे दिया है

    Reply

Leave a comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.