Air Force में पायलट कैसे बने व एयर फोर्स में करियर कैसे बनाये

नमस्कार दोस्तों, सक्सेस इन हिंदी में आपका स्वागत है हम एक बार फिर आपकी सेवा में हाजिर है रोजगार से जुड़ी संभावनाओं के साथ एक और ऐसी जानकारी के साथ जो भारत के लाखों करोड़ो नौजवान जानना चाहते है इसी क्रम में आइये जानते हैं इंडियन एयर फोर्स के बारे में, कैसे एयर फोर्स में जाये आज हम आपको बताएंगे कि इंडियन एयर फोर्स में छात्रों का भविष्य कैसा है।

how to become pilot in hindi

क्या है इंडियन एयर फोर्स

दोस्तों, भारतीय वायु सेना, भारतीय सशस्त्र सेना के तीन प्रमुख अंगों में से एक है। इसका उद्देश्य वायु युद्ध और वायु क्षेत्र की चौकबन्दी कर भारत देश की सुरक्षा करना है। परंपरागत रूप से समाज के व्यापक हिस्से में सिविल, डॉक्टरी और इंजीनियरिंग के अवाला इस क्षेत्र की भी प्रतिष्ठा कायम है।

ये भी पढ़ें: कैसे बनाये INDIAN ARMY में करियर

लेकिन यह क्षेत्र बाकियों की तुलना में ज्यादा चुनौती भरा होता है। इंडियन एयर फोर्स में बेहद मजबूत इरादों वाले लोगों की आवशयकता होती है जो जरुरत पड़ने पर अपने देश के लिए जान भी कुर्बान कर सकते हों।

इस क्षेत्र में जाने के लिए आपमें मेहनत, लगन, ईमानदारी और समर्पण के साथ ही देश के प्रति अगाध प्रेम होना भी अनिवार्य है। साथ ही इसमें आपको रोमांच और हवा में उड़ान भरने का सुख भी प्राप्त होगा। नई-नई तकनीकों से लैस संसाधनों से आपका परिचय होगा… तो क्या आप तैयार है आगे की जानकारी जाने के लिए…? जी हाँ जरूर ऐसा हम समझ सकते है…

वायु सेना की मुख्य तीन ब्रांच जिसमें आप आवेदन कर सकते हैं-

इंडियन एयर फोर्स में 3 क्षेत्रों में काम होता है। कोई भी छात्र-नौजवान अपनी शैक्षणिक योग्यता के आधार पर इन क्षेत्रों का चयन कर आवेदन कर सकता है।

1. फ्लाइंग ब्रांच

इस ब्रांच में आप पायलट के रूप में जॉब कर सकते हैं। अगर आप स्नातक उत्तीर्ण कर चुके हैं तब इसमें जाने के लिए आपको CDS कंबाइंड डिफेन्स सर्विसेस (सीडीएस) एग्जाम या AFCAT एयर फोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट (एएफसीएटी) में अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होना होगा।

अगर आपने 10+2 उत्तीर्ण किया है तब आपको NDA नेशनल डिफेन्स अकादमी (एनडीए) या NA नेवल अकादमी (एनए) की परीक्षा को उत्तीर्ण करना होगा। फ्लाइंग ब्रांच में शामिल होने से पहले आपकी 74 सप्ताह की ट्रेनिंग होगी।

ये भी पढ़ें: 12वी के बाद क्या करे

2. टेक्निकल ब्रांच

यह बेहद महत्वपूर्ण ब्रांच मानी जाती है। नई तकनीक से तैयार उपकरणों के रख-रखाव से लेकर उसकी मरम्मत तक में अच्छे टेकनीशियन और मकैनिक की आवश्यकता रहती है। मैकेनिकल, इलेक्ट्रिकल और तकनीकी ज्ञान हासिल किये छात्र-नौजवान इसमें AFCAT एयर फोर्स कॉमन एडमिशन टेस्ट (एएफसीएटी) की परीक्षा उत्तीर्ण करके जा सकते हैं। यूनिवर्सिटी एंट्री स्कीम के तहत भी लोग इस विभाग में शामिल हो सकते हैं।

3. ग्राउंड ड्यूटी ब्रांच

इस ब्रांच के अंतर्गत एकाउंटिंग, मैनेजमेंट, एडमिनिस्ट्रेशन, ऑडिटिंग, लोजिस्टिक आदि कामों में आप जॉब तलाश सकते हैं। इसमें जाने के लिए भी आपको सम्बंधित विषय के साथ ए.एफ.सी.ए.टी. की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी। इसमें पहले 52 सप्ताह की ट्रेनिंग होगी, उसके बाद आप स्थायी रूप में नियुक्त हो जाएंगे।

एयर फोर्स के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता और वेतनमान

इंडियन एयर फोर्स में आप हाईस्कूल उत्तीर्ण करने के बाद से ही शार्ट सर्विसेस कमीशन के तहत भर्ती हो सकते हैं। लेकिन किसी भी स्तर पर स्थायी नियुक्ति हेतु आपका 10+2 भौतिक और गणित विषय के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। विभिन्न ऑफिसर्स के पद पर आवेदन करने के लिए आपका स्नातक होना अनिवार्य है।

ये भी पढ़ें: MBBS करने के बाद करियर व कैसे बने डॉक्टर

इंजीनियरिंग क्षेत्र से जुड़े छात्र सी.डी.एस. या ए.एफ.सी.ए.टी. की परीक्षा उत्तीर्ण करके इसमें शामिल हो सकते हैं। ट्रेनिंग के बाद, तीनों ही ब्रांच में 62 हजार से लेकर 75 हजार तक मासिक वेतनमान पर नियुक्ति होती है।

विभिन्न पदों के अनुसार आयु सीमा 16 वर्ष से 25 तक अलग-अलग निर्धारित है। इस क्षेत्र में जाने के लिए आपका अविवाहित होना अनिवार्य है।

तो दोस्तों हमें उम्मीद है कि हमारा आज का विषय आपको जरूर पसंद आया होगा। आज के लिए बस इतना ही हमें दीजिये इजाजत नमस्कार।

अगर आपको ये पसंद आयी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे, आपका कोई सवाल है तो हमे कमेंट करके पूछ सकते है हम आपके सवाल का उत्तर देने की पूरी कोशिश करेंगे

4 Comments

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.